Noida full form in hindi | Noida full form kya hai? 2022

दोस्तो क्या आप जानना चाहते हो कि Noida full form kya hai? अगर हां तो आज आप सही पोस्ट पर आए हो आज हम आपको इस पोस्ट में Noida full form kya hai इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे। इन सभी टॉपिक के बारे में बात करेंगे तो आपका टाइम ना लेते हुए। पढ़ना शुरू करते है।

Noida full form in hindi? Noida full form ?kya hai?

Noida full form kya hai

Noida full form [ New Okhla Industrial Development Authority] है इसको हिंदी में नवीन ओखला औद्योगिक विकास प्राधिकरण कहा जाता है 

नोएडा की स्थापना कब हुई थी

नोएडा शहर की स्थापना 17 अप्रैल 1976 में संजय गांधी ने करवाई थी 1975 में संजय गांधी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री थे नोएडा शहर को बसाने का बहुत बड़ा कारण था इसलिए इसको बताया गया था कारण क्या था और नोएडा की स्थापना क्यों हुई जानने के लिए आगे पढ़ें।

नोएडा की स्थापना क्यों हुई थी

नोएडा शहर की स्थापना की शुरुआत सबसे पहले दिल्ली से हुई थी इसलिए हम आपको दिल्ली से ही बताना शुरू करते हैं 1947 में जब हमारा भारत देश आजाद हुआ था तो भारत देश आजाद होने के बाद दिल्ली को भारत की राजधानी बनाया गया दिल्ली को राजधानी पहली बार नहीं बनाया गया।

बल्कि जब राजाओं का शासक था जब भी दिल्ली को ही राजधानी बनाया गया था और जब अंग्रेजो ने हमारे भारत देश पर राज्य किया तो उन्होंने भी दिल्ली को भारत की राजधानी बनाया और उनसे पहले मुगलों ने हमारे भारत पर राज्य किया तो उन्होंने भी दिल्ली को ही राजधानी बनाया था इसलिए जब दिल्ली को भारत की राजधानी बनाया गया तो यह शहर काफी विकास पकड़ने लगा।

दिल्ली राजधानी बनने के बाद सरकार ने बहुत सारे काम किए जिसके कारण दिल्ली बहुत ज्यादा तरक्की पकड़ने लगा और आसपास के राज्यों के लोग दिल्ली में अपना बिजनेस करने के लिए रोजगार करने के लिए दिल्ली में आकर बसने लगे और बहुत ही तेजी से आबादी बढ़ने लगी तो इस कारण से सरकार को चिंता हुई।

कि दिल्ली की आबादी को कैसे रोका जाए दिल्ली की आबादी बहुत तेजी से बढ़ रही है ऐसी ही बढ़ता रहा तो दिल्ली में कोई जगह नहीं बचेगी सब लोग यहीं पर रहने लगेंगे तो दोस्तों यह बात है, 1976 की 1976 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री संजय गांधी थे तो संजय गांधी ने 1976 में नारायण दत्त तिवारी से जमुना के किनारे खाली जमीन पर नोएडा शहर को बसाने का सबसे पहले प्रस्ताव किया था।

प्रस्ताव रखने के बाद 1976 में ही यूपी सरकार को नोएडा शहर मैं विकास करने की मंजूरी दे दी गई लेकिन जब नोएडा शहर को बनाया जा रहा था तो उस समय खाली जमीन पर खेती की जाती थी तो वहां के किसानों ने मना भी किया था।

और इस कारण से हाई कोर्ट तक बात पहुंच गई थी जिस जमीन पर नोएडा शहर बसा हुआ है उस जमीन को पहले गौतमबुद्ध कहा जाता था 

नोएडा शहर की महत्वपूर्ण जानकारी 

नोएडा शहर की सबसे खास बात यह है कि नोएडा शहर पूरी तरह से प्रदूषण से मुक्त है नोएडा शहर में जाम लगने की संभावना बहुत कम रहती है नोएडा शहर को प्रदूषण से मुक्त करने के लिए वहां पर पार्क बनाए गए हैं 

नोएडा कौन से जिले में आता है

नोएडा शहर यूपी उत्तर प्रदेश राज्य में बसा हुआ है और यह गौतम बुद्ध नगर जिले में स्थित है

नोएडा की आबादी कितनी है

नोएडा शहर की आबादी की बात की जाए तो नोएडा के निवासी बहुत कम है वहां पर दूसरे राज्य के लोग बहुत ज्यादा रहती हैं क्योंकि नोएडा शहर में काम करने के लिए बहुत सारी कंपनियां हैं इसलिए वहां पर दूसरे राज्य के लोग बहुत ज्यादा रहते हैं।

अगर वहां के निवासी की बात की जाए तो 2011 की जनगणना के मुताबिक छह लाख लोगों की आबादी है और 2022 की गणना के अनुसार बात की जाए तो आठ लाख की आबादी हो चुकी है पहले से 200000 बढ़ गई है।

नोएडा में कितने सेक्टर हैं

नोएडा शहर में टोटल 163 सेक्टर बसे हुए हैं जिसमें से कुछ सेक्टरों को बंद कर दिया गया है जो सेक्टर बंद है नीचे आपको बताए गए हैं

  • 13 सेक्टर 
  • 114 सेक्टर 
  • 103 सेक्टर 
  • 109 सेक्टर 
  • 111 सेक्टर

नोएडा की राजधानी क्या है

बहुत से लोग जानना चाहते हैं कि नोएडा शहर की राजधानी क्या है तो हम आपको बता दे नोएडा एक उत्तर प्रदेश का शहर है अगर यह राज्य होता तो इसकी राजधानी होती उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ है

दिल्ली से नोएडा कितने किलोमीटर है 

नोएडा की दूरी दिल्ली से 20 किलोमीटर है नोएडा शहर जमुना नदी के किनारे पर दिल्ली से 20 किलोमीटर दूर बसा हुआ है बहुत से लोगों को जानकारी नहीं होती है वह समझते हैं कि हम दिल्ली जा रहे हैं अगर वह काम करते हैं तो बताते हैं कि हम दिल्ली ही काम कर रहे हैं

नोएडा में क्या फेमस है?

नोएडा शहर में बहुत सी जगह फेमस है जहां पर हर साल लाखों लोग घूमने के लिए आते हैं जैसे कि यहां पर ग्रीन पार्क बना हुआ है ग्रीन पार्क बहुत ही ज्यादा फेमस है यहां पर वंडर पार्क है इसमें लोग घूमने के लिए जाते हैं और सबसे बड़ी बात यह है कि नोएडा में इंटरनेशनल रेसिंग सर्किट भी मौजूद है

नोएडा का पुराना नाम क्या है

नोएडा शहर का पुराना नाम गौतम बुध है

नोएडा में कितने तहसील हैं?

जो लोग नोएडा में रहते हैं उनका जानना जरूरी है नोएडा में कितने तहसील है या फिर जानना चाहते हैं तो हमने आपको नीचे लिस्ट दी है लेकिन उससे पहले हम आपको बता दे नोएडा में टोटल पांच तहसील हैं जिसमें से आपको 3 तहसील के नाम बताए गए हैं

नोएडा तहसील लिस्ट

  • सदर
  • दादरी
  • जेवर

निष्कर्ष

Noida full form kya hai उम्मीद है आपको इसके बारे में पूरी जानकारी समझ में आ गई होगी हमने आपको नोएडा शहर का इतिहास से लेकर पूरी जानकारी दी है जैसे कि नोएडा शहर कब बसा था और नोएडा शहर की स्थापना क्यों की गई थी। सारी जानकारी हम आपको दे चुके हैं उम्मीद है आपको जानकारी पसंद आई होगी।

Leave a comment