अलंकार कितने प्रकार के होते है ? जाने हिंदी में 2022

दोस्तों स्वागत है आपका आज के इस पोस्ट में आज हम पढ़ने बाले है अलंकार कितने प्रकार के होते है और सभी की परिभाषा किया है ? यह सब हम पढ़ने वाले है ! अगर आप छात्र हो तो इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़े ! 

अलंकार कितने प्रकार के होते है ?


अलंकार कितने प्रकार के होते है

दोस्तों अगर आपको पता नहीं है की अलंकार कितने प्रकार के होते है ? तो में आपको बता देता हु ! मुख्य रूप से अलंकार दो प्रकार के होते है ! 1 शब्दालंकार 2 अर्थालंकार यह दो प्रकार के अलंकार होते है ! 
  1. शब्दालंकार 
  2. अर्थालंकार
और इनके भी अलग – अलग भाग होते है ! 

शब्दालंकार के कितने प्रकार के अलंकार है 

अगर आप नौवीं कक्षा के छात्र हो और 9 से लेकर अगर बारहवीं कक्षा के बीच के छात्र हो तो आपको यह जरूर मालूम होना चाहिए !

कि शब्द अलंकार कितने प्रकार के होते हैं अगर आपको मालूम नहीं है तो मैं आपको बता दूं शब्दालंकार तीन प्रकार के होते हैं अनुप्रास यमक  श्लेष 

  • अनुप्रास अलंकार
  • यमक अलंकार
  • श्लेष अलंकार

अनुप्रास अलंकार, यमक अलंकार, श्लेष अलंकार, सभी अलंकार के हम एक-एक करके परिभाषा पड़ेंगे ! उससे पहले हम पढ़ लेते हैं कि अर्थ – अलंकार के कितने प्रकार होते हैं ?




अर्थालंकार के कितने प्रकार होते हैं

दोस्तों अर्थालंकार के कितने प्रकार होते हैं अगर आपको मालूम नहीं है तो आपको मालूम होना चाहिए इसके अनेक प्रकार होते हैं लेकिन मैं आपको बता दूं अगर आप 12वीं कक्षा के छात्र हो तो आपको अर्थालंकार पढ़ने की आवश्यकता नहीं है

लेकिन अगर आप 12वीं कक्षा के नीचे के छात्र हो तो आपको जरूर पढ़ना चाहिए कि अर्थालंकार के कितने प्रकार होते हैं तो चलिए सभी के नाम पढ़ लीजिए !

अर्थालंकार के नाम

  • उपमा अलंकार
  • रूपक अलंकार
  • उत्प्रेक्षा अलंकार
  • उपमेयोपमा अलंकार
  • अतिश्योक्ति अलंकार
  • प्रतिवस्तुप्मा अलंकार
  • दृष्टांत अलंकार
  • अर्थान्तरन्यास अलंकार

अब दोस्तों आप सभी के नाम पर चुके हो अब मैं सबके परिभाषा आप को पढ़ाने वाला हूं बहुत ही आसान भाषा में मैं आपको एग्जांपल के जरिए से याद करा दूंगा !

अगर आप एक बार इसको पूरा पढ़ लेते हो तो आपको दोबारा पढ़ने की आवश्यकता नहीं होगी आपको एक बार ही पढ़ने में याद हो जाएंगे !

लेकिन मैं आपको बता दूं मैं सिर्फ आपको शब्दालंकार के प्रकार ही पढ़ाने वाला हूं क्योंकि 12वीं कक्षा में शब्दालंकार ही पूछे जाते हैं!

और अगर आप अर्थ अलंकार की परिभाषा भी और उसके प्रकार के भी परिभाषा पढ़ना चाहते हो तो कमेंट करके मुझे बता मैं उसकी भी बहुत आसान भाषा में आपको याद करा दूंगा ! 

अगर आप छात्र हो और किसी भी सब्जेक्ट में कुछ सवाल पूछना चाहते हो तो डायरेक्ट ग्रुप पर भी जुड़ सकते हो ग्रुप पर जुड़ने के लिए आपको ज्वाइन नाउ बटन पर क्लिक करना है

Join now 

चलिए तो अब हम पढ़ना शुरू करते हैं ! 

अलंकार किसे कहते हैं

जब किसी कारण किसी भी चीज की शोभा बढ़ जाती है जैसे कि हम मकान को बनाते हैं लेकिन जब हम मकान को बनाने के बाद उस पर प्लास्टर फरस करने के बाद पेंट करवा देते हैं!

तो मकान सुंदर लगने लगता है तो मकान की शोभा बढ़ जाती है इसी को अलंकार कहते हैं लेकिन इसमें मकान की सुंदरता का एग्जाम पर नहीं होता है इसमें हम शोभा मानते हैं वाक्य को

जब किसी काव्य की शोभा बढ़ाने वाले तत्वों का निर्माण होता है तो इसे अलंकार कहते हैं ! 

और यह तो आप जानते ही हो कि अलंकार दो प्रकार के होते हैं शब्दालंकार और अर्थालंकार

अर्थालंकार परिभाषा और भेद 

अर्थालंकार की परिभाषा क्या है

जब किसी काव्य में किसी वाक्य में अर्थ की माध्यम से उसकी शोभा बढ़ जाती है तो उसको अर्थालंकार कहते हैं ! 
जैसे कि किसी व्यक्ति ने आपसे पूछा कि आप कहां जा रहे हो तो आपका जवाब होगा !

मैं घर जा रहा हूं लेकिन अगर आप इसके बारे में बता दो कि मैं घर किस चीज से जा रहा हूं जैसे कि मैं घर अपनी गाड़ी से जा रहा हूं तो यह ठीक रहेगा तो अब आप समझ चुके होगे!

कि जब अर्थ के माध्यम से किसी वाक्य की शोभा बढ़ जाती है तो उसे अर्थालंकार कहते हैं !

शब्दालकार की परिभाषा क्या है

जब किसी वाक्य में शब्दों के माध्यम से उसकी शोभा बढ़ जाती है उसमें नया चमत्कार उत्पन्न हो जाता है तो इसी को शब्दालंकार कहते हैं शब्दालंकार तीन प्रकार के होते हैं !

अब हम शब्दालकार सभी तीन प्रकार के विस्तार में पढ़ने वाले हैं

  • अनुप्रास अलंकार 
  • यमक अलंकार 
  • श्लेष अलंकार

अनुप्रास अलंकार की परिभाषा क्या है

वर्णों की आवर्ती को अनुप्रास अलंकार कहते हैं.! जब समान वर्णों की बार-बार आवृत्ति होती है चाहे उनके मतलब अलग-अलग हो तो इसी को अनुप्रास अलंकार कहते हैं!

यमक अलंकार की परिभाषा क्या है

यमक का अर्थ होता है योग मैया जोड़ा जहां पर एक शब्द का एक से अधिक बार प्रयोग होता है तो इसको यमक अलंकार कहते हैं जब एक शब्द बार-बार एक ही बाक्य में लौटकर आता है तो इसी को यमक अलंकार कहते हैं!

श्लेष अलंकार की परिभाषा क्या है

जिस शब्द के एक से ज्यादा मतलब या अर्थ होते हैं तो उसी को श्लेष अलंकार कहते हैं!

इसे भी पढ़े 

Leave a comment